भीम 2.0 हुआ लान्‍च, नए फीचर क्‍या हैं जानिए यहां पर

भीम एप का नया वर्जन भीम 2.0 लॉन्‍च कर दिया गया है। यदि आप भी भीम एप का इस्‍तेमाल करते हैं तो नए एप की खासियत यहां पर जान लें। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि भीम 2.0 में अतिरिक्त भाषाओं के साथ लेन-देन सीमा बढ़ाने सहित कई सुविधाएं दी गई हैं।

1
Bhim-App
Bhim-App

भीम एप का नया वर्जन भीम 2.0 लॉन्‍च कर दिया गया है। यदि आप भी भीम एप का इस्‍तेमाल करते हैं तो नए एप की खासियत यहां पर जान लें। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि भीम 2.0 में अतिरिक्त भाषाओं के साथ लेन-देन सीमा बढ़ाने सहित कई सुविधाएं दी गई हैं।

पीएम मोदी ने किया है लॉन्‍च

बता दें कि भीम एप नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) द्वारा विकसित यूपीआई आधारित भुगतान प्लेटफॉर्म है। आपको बता दें कि डिजिटल इंडिया मिशन के तहत पीएम मोदी ने कैश लेन-देन को कम करने के लिए 30 दिसंबर 2016 को भीम एप लॉन्च किया था। पीएम मोदी ने तब कहा था कि इस समय कारोबार नकद के जरिए होता है, एक दिन ऐसा होगा कि सभी व्यावसायिक ट्रांजेक्‍शन BHIM एप के जरिए किए जाएंगे।

एग्जिट पोल के अनुसार हरियाणा और महाराष्ट्र में फिर बनेगी मोदी सरकार

3 अतिरिक्‍त भाषाएं जोड़ी गई हैं

आपको बता दें कि भीम एप को और उपयोगी और प्रभावी बनाने के लिए इसमें नई चीजें जोड़ी गई हैं। भीम का नया वर्जन मौजूदा 13 भाषाओं के अलावा तीन अतिरिक्त भाषाओं कोंकणी, भोजपुरी और हरियाणवी को भी सर्पोट करेगा। मौजूदा 13 भाषाओं में हिंदी, अंग्रेजी, तमिल, तेलुगु, मलयालम, बंगाली, उड़िया, कन्नड़, गुजराती, मराठी, असमी शामिल हैं।

भीम 2.0 वर्जन की खासियत

  • नए वर्जन में लेन-देन सीमा बढ़ गई है।
  • कई बैंक खाते को भी अब जोड़ा जा सकता है।
  • मर्चेंट्स यानी दुकानदार भी अब अपनी ओर से नए ऑफर दे सकते हैं।
  • आईपीओ के लिए आवेदन का ऑप्शन भी आ गया है।
  • अब आप आसानी से पैसे और गिफ्ट भी एप के जरिए भेज सकते हैं।
  • इसके अलावा एप अब 13 भाषाओं में उपलब्ध है।

नई दरें 1 अक्‍टूबर से लागू हो गई हैं

जानकारी हो कि सरकार ने देश में डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के 100 रुपये तक ट्रांसजेक्शन पर एमडीआर चार्ज खत्म कर दिया है। इससे फुटकर विक्रेताओं को मदद मिल रही है। आपको बता दें कि भीम एप के जरिए ट्रांसजेक्शन पर पहले 2000 रुपये के ट्रांसमिशन पर 0.25 प्रतिशत और 2000 रुपये से अधिक ट्रांजेशन पर 0.65 प्रतिशत मर्चेंट डिस्‍काउंट रेट चार्ज किया गया था। अब इसमें 100 रुपये तक के लेनदेन को किसी भी चार्ज से मुक्त कर दिया गया है। नई दरें 1 अक्टूबर से लागू हो गई हैं।

आ गयी OLA की Self Drive कार रेंटल सर्विस OLA DRIVE, पढ़िए पूरी खबर !!

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here