PPF को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बड़ा ऐलान

PPF-वित्त मंत्री (निर्मला सीतारमण) ने ऐलान किया की स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स (Small Savings Schemes) और PPF पर ब्याज दरें में मार्च से जून 2021 तक तीन महीने के लिए कटौती की घोषणा की थी। निर्मला सीतारमण जी ने यह ऐलान 1 अप्रैल को किया था लेकिन अब इस आदेश को वापस ले लिया है।

स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स (Small Savings Schemes) की वर्तमान ब्याज दरे आप यहां पर जान सकते हैं:-

PPF (Public provident fund) की ब्याज दरें:-

PPF (पीपीएफ) ब्याज दर को अभी चल रहे वित्त वर्ष के पहले तीन महीने के लिए 7.1 फीसदी से घटाकर 6.4 फीसदी कर दी है।

NSC (National Savings Certificate) की ब्याज दरें :-

नेशनल सेविंग्स स्कीम्स (NSC) पर ब्याज दर को 6.8 फीसदी से घटाकर 5.9 फीसदी कर दिया है।

SCSS (Senior Citizen Savings Schemes) की ब्याज दरें:-

सीनियर सिटिज़न सेविंग्स स्कीम्स (SCSS) की दर को 7.4 फीसदी से घटाकर 6.5 फीसदी करने की घोषणा की थी।

सुकन्या समृद्धि योजना की ब्याज दरें:-

सुकन्या समृद्धि योजना खाते पर ब्याज 2021 की पहली तिमाही अर्थात अप्रैल – जून के लिए ब्याज दर 7.6 फीसदी में  0.7 फीसदी घटा कर 6.9 कर दिया गया था।PPF Scheme 2019: नए नियमों के तहत पीपीएफ खाते में क्‍या हुआ बदलाव, जानें यहां

किसान विकास पत्र पर दिए जा रहे सालाना ब्याज दरें:-

किसान विकास पत्र पर दिए जा रहे सालाना ब्याज दर में 6.9 फीसदी में 0.7 फीसदी कम करके 6.2 फीसदी कर दिया गया था। लेकिन अब सभी दरे अपरिवर्तित है और पहले की तरह कार्य कर रही हैं।किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) कैसे बनवाएं?

कुछ ही घंटों के बाद बदला फैसला:-

कुछ ही घंटों बाद उन्होंने अपने फैसले को वापस ले लिया और फैसला बदल दिया और कहा की सरकार PPF तथा NSC जैसे छोटी बचत योजनाओं में की गई बढ़ोतरी को वापस लेगी और कहा की सरकार से ऐसा गलती से हो गया था।वन नेशन, वन राशन कार्ड योजना के बारे में पूरी जानकारी

Twitter पर किया था ऐलान:-

वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण ने अपने ट्विटर (Twitter) हैंडल के जरिए ये ट्वीट कर के सोचना जारी की कि Small saving schemes (स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स) की ब्याज दरों में कटौती की घोषणा को वापस ले लिया गया है।

आगे की बात:-

ट्विटर पर ट्वीट करते हुए उन्होंने ये भी लिखा की वित्त वर्ष 2021-2022 में भारत सरकार की तरफ से जो छोटी बचत स्कीम्स होंगी उसमे देय ब्याज दरों में पिछले वित्त वर्ष अंतिम तीन महीने के स्तर पर ही बनी रहेगी। उसमे कुछ भी बदलाव नहीं किए जाएंगे। मार्च 2021 में जो भी दरे थी वे ही कार्यशील रहेंगी।

कई सारे कारण सामने आ रहे हैं:-

वित्त मंत्री समेत सरकार ने ये फैसला क्यों वापस ले लिया इस पर सभी अपने अपने विचारो को स्पष्ट कर रहे हैं। ब्याज दरों के बढ़ने की एक वजह बंगाल, केरल, असम समेत पांच राज्यों में जो विधानसभा के चुनाव चल रहे हैं ये भी मानी जा रही है। बंगाल और असम में बीते शुक्रवार को दूसरे चरण का मतदान भी संपन्न हुआ।छोटी बचत योजनाएं PPF, NSC, KVP की ब्‍याज दरों में हुई कटौती

विपक्ष में मची खलबली:-

देश के आर्थिक विशेषज्ञ वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के दिए हुए बयान को स्वीकार करने में असमर्थ है कि वित्त मंत्रालय जोकि देश के उच्च मंत्रालयों में एक है उससे कोई आदेश गलती से जारी कर दिया गया हो। दरों में गलती से परिवर्तन पर विपक्ष में खलबली मच गई है और हर कोई अपने अलग-अलग तर्क प्रस्तुत कर रहा है।

Conclusion (निष्कर्ष):-

स्मॉल सेविंग स्कीम पर ब्याज दर प्रत्येक तिमाही के लिए तय की जाती है यह ब्याज दरें भारत सरकार द्वारा ही तय की जाती है। पिछले साल अप्रैल 2020 में कोविड-19 की वजह से ब्याज दरों में भारी कटौती की जा चुकी है।

कल के दिन, वित्त मंत्री द्वारा वित्तीय वर्ष 2021-2022 की पहली तिमाही के लिए NSC (National Saving Certificate) और PPF (Public Provident Fund) के ब्याज दरों में कटौती का आदेश आया था परंतु उस आदेश को अब वापस लिया जा चुका है और सभी ब्याज दरें पहले की तरह ही कार्य करेंगी।

Hindi News (हिंदी समाचार): Get updated with all news like business news, idea, entertainment, tech,sports, politics and life style related news from all over India and around the world. यहां पर आपको हिंदी समाचार जैसे देश-दुनिया, बिजनेस, मनोरंजन, टेक, खेल पॉलिटिक्‍स और लाइफस्‍टाइल से जुड़ी खबरें पढ़ने को मिलेंगी।

1 thought on “PPF को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बड़ा ऐलान”

Leave a Comment