RBI: दिवाली में जारी किए 1700 करोड़ नए नोट

भारतीय रिजर्व बैंक(RBI) ने भारत में 1700 करोड़ रुपए के नए नोट जारी किये हैं। आपको बता दें कि 10, 20 और 50 रुपये के नोटों की ज्यादा मांग है। 1700 करोड़ नोटों में 100 और 500 के नोटों की संख्या सबसे ज्‍यादा उतारी गई है। बैंकों ने नई करेंसी का एक बड़ा हिस्‍सा अपने खास ग्राहकों को बांट दिया है।

इस दिवाली RBI ने जारी किये 1700 करोड़ के नए नोट (RBI Released 1700 crore new notes in Diwali)

आपको बता दें कि दिवाली पूजन के चलते रिजर्व बैंक ने नई करेंसी जारी की है। लगभग 1700 करोड़ की करेंसी में सबसे ज्यादा हिस्सा पांच सौ के नोटों का है। चौथाई भाग सौ के नोटों का है। शेष में पचास, बीस और दस के नोट हैं। दिलचस्प बात यह है कि इस बार बड़े नोटों के मुकाबले छोटे नोटों की मांग ज्यादा है।

मोदी सरकार: सरकारी कंपनियों की जिम्‍मेदारी मिल सकती है प्राइवेट सेक्‍टर को

दिवाली के चलते लोगो में धन पूजा का एक अलग महत्व है, जिसके चलते लोगो के बीच नए नोटों की ज्यादा डिमांड होती है। लक्ष्मी पूजन के लिए इस बार बैंकों में 20 रुपए के नोट की डिमांड ज्यादा है। कारण इसका नया होना है। 2018 की दिवाली की बात करें तो पूजन में रखने के लिए 10 रुपए के नए नोट की डिमांड ज्यादा थी। आम लोगों को नई करेंसी के दर्शन कम ही नसीब हुए। ज्यादातर बैंकों ने बड़े ग्राहकों के बीच नए नोटों की गडि्डयां पहुंचाईं। तो वहीं एटीएम से भी नए नोट बेहद कम निकले।

नयी करेंसी के बिशेषताए (Features Of New Currency Notes)

आप को बतादे की बाजार में दिसंबर तक वार्निश वाला नोट आने की उम्मीद है। RBI सबसे पहले सौ का नोट जारी करेगा। यह मौजूदा नोट के मुकाबले दोगुना टिकाऊ होगा। अभी सौ रुपये का नोट औसतन लगभग तीन से चार साल चलता है लेकिन वार्निश चढ़े नोट की उम्र करीब दोगुना हो जाएगी यानी लगभग सात-आठ साल तक टिका रहेगा। उन्हें पहले ट्रायल के आधार पर जारी किया जाएगा। नए नोट को ज्यादा संभालकर रखने की जरूरत नहीं होगी। क्योंकि नया नोट ना तो जल्दी कटेगा न फटेगा, और ना ही पानी में जल्दी गलेगा क्योंकि इस पर वार्निश पेंट चढ़ाई है।

भीम 2.0 हुआ लान्‍च, नए फीचर क्‍या हैं जानिए यहां पर

एक रूपये के नए नोट (One Rupee New Currency Notes)

RBI ने दिवाली में सीमित मात्रा में एक रुपए के नोट जारी किए। ये नोट शगुन के तौर पर छापे गए हैं। ये जानना बड़ा दिलचस्प है कि केवल एक रुपए का नोट ही एकमात्र ऐसी करेंसी है, जिस पर आरबीआई का अधिकार नहीं होता है। ये नोट सीधा सरकार के नियंत्रण में होता है इसीलिए इस पर आरबीआई गवर्नर की जगह वित्त सचिव के सिग्‍नेचर होते हैं। दो साल पहले ही एक रुपए का नोट सौ साल का हुआ था।

आ गयी OLA की Self Drive कार रेंटल सर्विस OLA DRIVE, पढ़िए पूरी खबर !!

Hindi News (हिंदी समाचार): Get updated with all news like business news, idea, entertainment, tech,sports, politics and life style related news from all over India and around the world. यहां पर आपको हिंदी समाचार जैसे देश-दुनिया, बिजनेस, मनोरंजन, टेक, खेल पॉलिटिक्‍स और लाइफस्‍टाइल से जुड़ी खबरें पढ़ने को मिलेंगी।